logo
UPSC Exam Tips: IAS से जानिए मेन परीक्षा के लिए कौन-से टिप्स हैं बेहद जरूरी,जानिए
 
UPSC Main Exam Tips

यूपीएससी (UPSC) ने सिविल सर्विस की प्रीलिम्स परीक्षा के नतीजे पहले ही घोषित कर दिए हैं और सभी सफल उम्मीदवारों को मेंस परीक्षा में भाग लेने का मौका मिलेगा! 16 सितंबर से मेंस परीक्षा कराई जाएगी और सभी उम्मीदवार इसकी तैयारी में जी-जान से जुट गए हैं! कुछ खास टिप्स और स्ट्रेटेजी की मदद से उम्मीदवार फाइनल लिस्ट में अपना नाम दर्ज करा सकते हैं! ये टिप्स बेहद सरल हैं और आसानी से अपनी तैयारी में अपनाई जा सकती है! मेंस परीक्षा से संबंधित तैयारी के कुछ बेसिक लेकिन बेहद ही जरूरी टिप्स (UPSC Main Exam Tips) अवनीश शरण ने एक ट्वीट के माध्यम से शेयर किया है! 


यदि सिविल सर्विस परीक्षा के पैटर्न की बात की जाए तो यह परीक्षा तीन चरणों में संपन्न होती है! पहला चरण है प्रीलिम्स परीक्षा उसके बाद बारी आती है मेंस परीक्षा की और अंत में इंटरव्यू होता है फिर फाइनल मेरिट लिस्ट तैयार कर नतीजे जारी किए जाते हैं! प्रीलिम्स परीक्षा में एमसीक्यू फॉर्मेट इस्तेमाल होता है वहीं मेंस परीक्षा में विषय की गहन जानकारी को चेक किया जाता है!

जो भी उम्मीदवार प्रीलिम्स परीक्षा पास करता है और कट ऑफ क्लीयर करता है उसे अगले चरण में मेंस परीक्षा में बैठने का अवसर प्राप्त होता है! मेंस में सफलता प्राप्त करने वाले उम्मीदवारों को इंटरव्यू मे बैठने का अवसर दिया जाता है! मेंस परीक्षा कुल 1750 अंको की होती है! यदि बात मेंस के सिलेबस की हो तो इसमें 9 थ्योरी पेपर होते हैं और फाइनल मेरिट लिस्ट बनाते समय 7 विषयों के अंको को शामिल किया जाता है! दो अन्य पेपर इंग्लिश और हिंदी केवल क्वालीफाइंग नेचर के होते हैं जिसमें उम्मीदवारों को केवल 25 फीसदी या उससे अधिक अंक प्राप्त करने होते हैं!


जो भी उम्मीदवार प्रीलिम्स परीक्षा पास करता है और कट ऑफ क्लीयर करता है उसे अगले चरण में मेंस परीक्षा में बैठने का अवसर प्राप्त होता है! मेंस में सफलता प्राप्त करने वाले उम्मीदवारों को इंटरव्यू मे बैठने का अवसर दिया जाता है! मेंस परीक्षा कुल 1750 अंको की होती है! यदि बात मेंस के सिलेबस की हो तो इसमें 9 थ्योरी पेपर होते हैं और फाइनल मेरिट लिस्ट बनाते समय 7 विषयों के अंको को शामिल किया जाता है! दो अन्य पेपर इंग्लिश और हिंदी केवल क्वालीफाइंग नेचर के होते हैं जिसमें उम्मीदवारों को केवल 25 फीसदी या उससे अधिक अंक प्राप्त करने होते हैं!

पेपर 1- निबंध
पेपर 2- जीएस पेपर 1
पेपर 3- जीएस पेपर 2
पेपर 4- जीएस पेपर 3
पेपर 5- जीएस पेपर 4
पेपर 6- ऑप्शनल पेपर 1
पेपर 7- ऑप्शनल पेपर 2