हरियाणा में बदला आयुष्मान कार्ड का नाम, अब चिरायु के नाम से जाना जाएगा


Govt Vacancy Jobs: आयुष्मान भारत – PMJAY स्कीम अब हरियाणा में चिरायु के नाम से जानी जाएगी। CM मनोहर लाल ने गुरुग्राम के मानेसर में योजना के विस्तार के शुभारंभ के दौरान यह घोषणा की। उन्होंने कहा कि अब राज्य में 12 लाख अंत्योदय परिवार और इस योजना से जोड़े गए हैं। सीएम ने कहा कि 31 दिसंबर तक सभी लाभार्थियों को गोल्डन कार्ड का वितरण कर दिया जाएगा।

योजना के अंतर्गत केंद्र सरकार की आयुष्मान भारत-प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना का दायरा बढ़ाया गया है। लगभग 28 लाख परिवार इस योजना का लाभ उठा पाएंगे। 5 लाख तक का इलाज सरकारी व पैनल पर प्राइवेट अस्पतालों में करवा सकेंगे।

अभी तक 9.5 लाख परिवारों को लाभ
आयुष्मान योजना का लाभ अभी तक 9.5 लाख लोगों को मिलता था, लेकिन अब हरियाणा के 28 लाख परिवारों को इसे योजना के तहत लाभ मिलेगा। इस योजना के अंतर्गत 5 लाख तक का मुफ्त इलाज दिया जाएगा। साथ ही इसके साथ किसी अन्य दस्तावेज दिखाने की भी कोई आवश्यकता नहीं होगी।

1290 अस्पतालों में मिलेगा इलाज
गोल्डन कार्ड के जरिए हरियाणा के लोगों को 1,290 सरकारी और गैर सरकारी अस्पतालों में इलाज मिल सकेगा। योजना के तहत करीब 715 सरकारी अस्पतालों और 575 निजी अस्पतालों को सूचीबद्ध किया गया है। साथ ही कैंसर, हार्ट अटैक जैसी गंभीर बीमारियों के साथ ही 1,500 के करीब दूसरी बीमारियों को इसमें कवर किया गया है।

घर बैठे पीला कार्ड मिलेगा
हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने अपने संबोधन में कहा कि राज्य के 1.80 लाख से कम वार्षिक आय वाले परिवारों को घर बैठकर ही पीला कार्ड सरकार देगी। हालांकि हरियाणा देश के दूसरे राज्यों से छोटा है, लेकिन विकास में उनसे आगे हैं। हरियाणा सरकार यह सुनिश्चित कर रही है कि हरियाणा के लोगों को हर सुविधा का लाभ मिल सके।

 govt Vacancy jobs

 PM Kisan Yojana: सावधान! किसान तुरंत कर लें ये तीन काम, वरना अटक सकती है 13वीं किस्त
 

परिवार पहचान पत्र डेटा को बनाया आधार
कोविड के कारण 2021 की जनगणना का कार्य आरंभ नहीं हो सका। साथ ही 10 सालों में अंत्योदय परिवारों की संख्या भी बढ़ी है, इसलिए हरियाणा सरकार ने परिवार पहचान पत्र के सत्यापित डेटा को आधार मानकर उन परिवारों को भी योजना में शामिल किया है, जिनका नाम 2011 के आंकड़ों में शामिल नहीं था।

1.24 करोड़ लोगों को मिलेगा लाभ
केंद्र सरकार के मापदंडों के अनुसार हरियाणा में 15 लाख 51 हजार 798 परिवार इस योजना में कवर हो रहे थे, लेकिन हरियाणा सरकार ने योजना का दायरा बढ़ाया। जिस वजह से अब प्रदेश के लगभग 28 लाख परिवारों के क़रीब 1.24 करोड़ व्यक्तियों को इस योजना का लाभ मिलेगा।

होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *