logo
इन लोगों का नया आयुष्मान गोल्डेन कार्ड बनना हुआ शुरू, जानिए क्या है जरूरी कागज और कहां-कहां होगा जाना
 
Aaushmaan card

श्रम विभाग में पंजीकृत भवन निर्माण श्रमिकों का आयुष्मान गोल्डेन कार्ड बनना शुरू हो गया है। अब इन मजदूरों को भी स्वास्थ्य बीमा का लाभ मिलेगा। आयुष्मान योजना के तहत इन सभी निर्माण श्रमिकों का गोल्डन कार्ड बनाया जाएगा। जिससे वह अपने परिवार के सदस्यों का सरकारी के अलावा चुने हुए निजी अस्पतालों में मुफ्त इलाज करा सकेंगे।  

उप श्रमायुक्त राकेश द्विवेदी ने बताया कि गोल्डन कार्ड बनाए जाने का कार्य अभियान के तौर पर शुरू किया गया है। गोल्डन कार्ड बन जाने पर निर्माण श्रमिक पांच लाख रुपए तक इलाज सालाना करा सकेंगे। कई गंभीर बीमारियों का इलाज नि:शुल्क होगा। उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेश भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड में पंजीकृत श्रमिकों का ही आयुष्मान कार्ड बनेगा।  

जन सेवा केन्द्र व सीएचसी में बनेगा कार्ड
बोर्ड में पंजीकृत निर्माण श्रमिक सीएससी(जन सेवा केन्द्र) व सीएससी (सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र) पर जाकर अपना गोल्डन कार्ड बनवा सकते हैं। श्रमिक इसके लिए राशनकार्ड, श्रमिक पंजीकरण, परिवार के आधार कार्ड, मोबाइल लेकर जाना होगा। गांव में श्रमिक अपने रोजगार सेवक से भी सम्पर्क कर सकते हैं।