ICICI-SBI-HDFC बैंक वालों के ल‍िए बड़ी खबर, मिन‍िमम बैलेंस मेंटेन करने की झंझट खत्‍म!

Minimum Balance in Bank Account: क्या आपको कभी बैंक अकाउंट में मिनिमम बैलेंस मेंटेन नहीं करने पर पेनल्टी देनी पड़ी है? शायद आपका जवाब हां है। अगर ऐसा है तो भविष्य में सब कुछ ठीक रहा तो अकाउंट में मिनिमम बैलेंस मेंटेन करने की जरूरत नहीं पड़ेगी। अलग-अलग बैंकों के सेविंग और करंट अकाउंट में मिनिमम बैलेंस बनाए रखने की अलग-अलग लिमिट होती है। हाल ही में जन धन खाता खोलने के अभियान के दौरान केंद्र ने यह सुनिश्चित करने की कोशिश की है कि देश के प्रत्येक नागरिक के पास बैंक खाता हो। जनधन खाते में मिनिमम बैलेंस रखने की बाध्यता नहीं है।

निदेशक मंडल जुर्माना समाप्त करने का निर्णय लेने के लिए स्वतंत्र है

वित्त राज्य मंत्री भगवंत किशोर कराड ने खातों में मिनिमम बैलेंस बनाए रखने को लेकर अहम बयान दिया है. उन्होंने कहा कि बैंकों का निदेशक मंडल बिना मिनिमम बैलेंस वाले खातों पर लगने वाले जुर्माने को खत्म करने का फैसला कर सकता है। कराड ने एक सवाल के जवाब में कहा, ‘बैंक स्वतंत्र निकाय हैं।’ उनका निदेशक मंडल जुर्माना हटाने का फैसला कर सकता है।

राज्य मंत्री कराड द्वारा पूछे गए प्रश्न

मीडिया ने राज्य मंत्री कराड से मिनिमम बैलेंस मेंटेन करने के बारे में पूछा था. उनसे पूछा गया था कि क्या केंद्र बैंकों को उन खातों पर कोई जुर्माना नहीं लगाने का निर्देश देने पर विचार कर रहा है, जिनकी जमा राशि न्यूनतम निर्धारित स्तर से कम है।

कराड जम्मू-कश्मीर के दो दिवसीय दौरे पर हैं

वित्त राज्य मंत्री जम्मू-कश्मीर में विभिन्न वित्तीय योजनाओं के कार्यान्वयन की समीक्षा करने के लिए केंद्र शासित प्रदेश के दो दिवसीय दौरे पर हैं। उन्होंने कहा कि पिछले कुछ वर्षों में जम्मू-कश्मीर में बैंकों ने अच्छा प्रदर्शन किया है। साथ ही उन्हें उन मानकों पर अपने प्रदर्शन में सुधार करने का निर्देश दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *