PM Kisan: 31 दिसंबर तक कर लें ये काम, वरना खाते में नहीं आएगी किस्त

PM-किसान योजना के लाभार्थी किसानों को 31 दिसंबर तक अपना ई-केवाईसी वेरिफिकेशन कराना होगा. राज्य के नोडल अधिकारी (पीएम-किसान) मेघराज सिंह रतनू ने बताया कि पीएम-किसान योजना के सभी लाभार्थी किसानों के लिए 31 दिसंबर, 2022 तक ई-केवाईसी वेरेफिकेशन कराना अनिवार्य किया गया है, जिससे उन्हें योजना के तहत सभी लाभ सुचारू रूप से मिल सके. उन्होंने कहा कि ई-केवाईसी वेरिफिकेशन नहीं होने पर लाभार्थी किसानों को आने वाली किस्तें मिलने में मुश्किल आ सकती है.

कहां करा सकेंगे ई-KYC?

रतनू ने बताया कि इसके लिए लाभार्थी किसानों को ई-मित्र केंद्र पर जाकर आधार कार्ड के द्वारा बायोमेट्रिक प्रणाली से ई-केवाईसी वेरिफिकेशन पूरा कराना होगा. सभी ई-मित्र केंद्र पर ई-केवाईसी के लिए शुल्क 15 रुपये प्रति लाभार्थी (टैक्स सहित) निर्धारित किया गया है. किसानों को इस योजना में आने वाली किस्त का लाभ ई-केवाईसी पूरा होने पर ही मिलेगा.

आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पीएम किसान सम्मान निधि की 12वीं किस्त 17 अक्टूबर को ही जारी कर दी थी. इस बार देश के 8 करोड़ किसानों को फायदा हुआ. सभी के खाते में 2000 रुपये ट्रांसफर हुए. इसके लिए केंद्र सरकार को 16 हजार करोड़ रुपये खर्च करने पड़े. लेकिन अब किसानों ने 13वीं किस्त को लेकर इंतजार शुरू कर दिया है. लेकिन इस बार बहुत से किसान 13वीं किस्त का फायदा नहीं उठा सकते हैं.

फर्जी किसानों की पहचान में मिलेगी मदद

दरअसल, केंद्र सरकार ने ई- केवाईसी जरूरी कर दिया है. केंद्र सरकार को लगता है कि लाखों की संख्या में किसान फर्जी तरीके से हर साल पीएम किसान का फायठा उठा लेते हैं. इससे सरकार पर आर्थिक बोझ बढ़ गया. लेकिन, ई- केवाईसी अनिवार्य करते ही अब फर्जी किसानों की पहचान हो जाएगी. ऐसे में उन्हें पीएम किसान लिस्ट से बाहर कर दिया जाएगा.

इससे पहले केंद्र सरकार ने 11वीं किस्त के लिए 21 हजार करोड़ रुपए जारी किए थे. तब 10 करोड़ किसानों के खाते में पैसे ट्रांसफर हुए थे. वहीं, ई- केवाईसी अनिवार्य करते ही फर्जी किसानों की संख्या में काफी कमी आई. अकेले उत्तर प्रदेश में 21 लाख फर्जी किसानों के नाम काट दिए गए. वहीं, पति और पत्नी भी एक साथ पीएम किसान योजना का फायदा नहीं उठा सकते हैं. अगर ऐसा करते हुए पकड़े जाते हैं, तो उन्हें फर्जी करार दिया जाएगा. साथ ही उनसे पैसे भी वापस ले लिए जाएंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *